Top Tareef Shayari with images in Hindi and English | तारीफ शायरी

tareef shayari

Top Tareef Shayari with images in Hindi and English | तारीफ शायरी

Tareef Shayari is mostly liked by all. We all love our praise and if it is in the form of Shayari then what better can you ask. We have different forms of Shayari available on our site. Ranging from love to sad and broken heart Shayari in Hindi and Hinglish for your better understanding and reading.

You can also visit our facebook page for more and join our community by liking our page. Comment your favorite Shayari. VIsit Gyani Guruji for Information and gain knowledge.

tareef

उनकी तारीफ़ क्या पूछते हो उम्र सारी गुनाहों में गुजरी
अब शरीफ बन रहे है वो ऐसे जैसे गंगा नहाये हुए है

Unki Taareef Kya Poochhate Ho Umr Saaree Gunaahon Mein Gujri
Ab Sharef Ban Rahe Hai Vo Aise Jaise Ganga Nahaaye Hue Hai


 

जरा उतर के देख मेरे दिल की गहराइयों में,
कि तुझे भी मेरे जज़्बात का पता चले,
दिल करता है चाँद को खड़ा कर दूं तेरे आगे,
जरा उसे भी तो अपनी औकात का पता चले।

jara utar ke dekh mere dil ki gaharaiyo mein,
ki tujhe bhi mere jazbat ka pata chale,
dil karata hai chand ko khada kar dun tere age,
jara use bhi to apani aukat ka pata chale.


बादलों में छुप रहा है चाँद क्यों
अपने हुस्न की शोखियों से पूछ लो
चांदनी पड़ी हुई है मंद क्यों
अपनी ही किसी अदा से पूछ लो

badalo mein chup raha hai chand kyon
apane husn ki shokhiyon se puch lo
chandani padi hui hai mand kyo
apani hi kisi ada se puch lo


उफ्फ ये नज़ाकत ये शोखियाँ ये तकल्लुफ़,
कहीं तू उर्दू का कोई हसीन लफ्ज़ तो नहीं।

Uff Ye Nazakat Ye Shokhiyaan Ye Takalluf,
Kahi Tu Urdu Ka Koi Hasin Lafz To Nahi.

Praise shayari

जरा उतर के देख मेरे दिल की गहराइयों में,
कि तुझे भी मेरे जज़्बात का पता चले,
दिल करता है चाँद को खड़ा कर दूं तेरे आगे,
जरा उसे भी तो अपनी औकात का पता चले।

Jara utar ke dekh mere dil kee gaharaiyon mein,

Ki tujhe bhee mere jazbaat ka pata chale,

Dil karata hai chaand ko khada kar doon tere aage,

Jara use bhee to apanee aukaat ka pata chale.


तेरा हुस्न एक जवाब,मेरा इश्क एक सवाल ही सही
तेरे मिलने कि ख़ुशी नही,तुझसे दुरी का मलाल ही सही
तू न जान हाल इस दिल का,कोई बात नही
तू नही जिंदगी मे तो तेरा ख़याल ही सही

tera husn ek jawab,mera ishk ek sawaal hi sahi
tere milane ki khushi nahi,tujhase duri ka malal hi sahi
tu na jaan hal is dil ka,koi baat nahi
tu nahi jindagi me to tera khayal hi sahi


मेरे हमदम तुम्हें बड़ी फुर्सत में बनाया है,
जुल्फें ये तुम्हारी बादल की याद दिला दें,
नज़र भर देख लो जो किसी को,
नेक दिल इंसान की भी नियत बिगड़ जाए।

mere hamdam tumhe badi phursat mein banaya hai,
julfhe ye tumhari badal ki yad dila den,
nazar bhar dekh lo jo kisi ko,
nek dil insaan ki bhi niyat bigad jae.


तेरा हुस्न जब से मेरी आँखों में समाया है,
मेरी पलकों पे एक सुरूर सा छाया है,
मेरे चेहरे को हसीन नूर देने वाले,
ये तेरे दीदार के लम्हों का सरमाया है!

tera husn jab se meri aakho mein samaaya hai,
meri palakon pe ek surur sa chhaya hai,
mere chehare ko hasin nur dene wale,
ye tere didaar ke lamhon ka saramaaya hai!


 

Praising poems

तेरा हुस्न एक जवाब, मेरा इश्क एक सवाल ही सही
तेरे मिलने कि ख़ुशी नही, तुझसे दुरी का मलाल ही सही
तू न जान हाल इस दिल का, कोई बात नही
तू नही जिंदगी मे तो तेरा ख़याल ही सही

Tera husn ek javaab, mera ishk ek savaal hee sahee,

Tere milane ki khushee nahi, tujhase duree ka malaal hee sahee,

Tu na jaan haal is dil ka, koee baat nahi,

Tu nahee jindagee me to tera khayaal hee sahee


क्या तुझे कहूं तू है मरहबा.
तेरा हुस्न जैसे है मयकदा
मेरी मयकशी का सुरूर है,
तेरी हर नजर तेरी हर अदा

kya tujhe kahun tu hai marahaba.
tera husn jaise hai mayakada
meri mayakashi ka surur hai,
teri har najar teri har ada


ये आईने क्या दे सकेंगे तुम्हें
तुम्हारी शख्सियत की खबर,
कभी हमारी आँखो से आकर पूछो
कितने लाजवाब हो तुम।

ye aine kya de sakenge tumhen
tumhari shakhsiyat ki khabar,
kabhi hamari aankho se aakar pucho
kitane laajavab ho tum.


कुछ इस तरह से वो मुस्कुराते हैं,
कि परेशान लोग उन्हें देख कर खुश हो जाते हैं,
उनकी बातों का अजी क्या कहिये,
अल्फ़ाज़ फूल बनकर होंठों से निकल आते हैं।

kuch is tarah se vo muskurate hain,
ki pareshan log unhen dekh kar khus ho jaate hain,
unaki baato ka aji kya kahiye,
alfaz phool banakar honthon se nikal aate hain.


 

tareef shayari

यू तारीफ ना किया करो मेरी शायरी की

दिल टूट जाता है मेरा जब तुम मेरे दर्द पर वाह-वाह करते हो

Yoo Taareeph Na Kiya Karo Meree Shayari Ki,

Dil Toot Jaata Hai Mera Jab Tum Mere Dard Par Vaah-Vaah Karate Ho


बहुत खूबसूरत हो तुम
है फूलों सी नाज़ुक मुस्कान तुम्हारी
यह लब है तुम्हारे या खिलता चमन है
बहुत खूबसूरत हो तुम

bahut khubasurat ho tum
hai phoolo si naazuk muskan tumhari
yah lab hai tumhare ya khilata chaman hai
bahut khubasurat ho tum


बहुत खूबसूरत है आखै तुम्हारी,
इन्हें बना दो किस्मत हमारी.
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ,
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी…

bahut khubasurat hai aakhai tumhari,
inhen bana do kismat hamari.
hamen nahi chahiye zamane ki khushiyan,
agar mil jaye mohabat tumhari…


यूँ ही नही आती खूबसूरती रंगोली में…
अलग-अलग रंगों को एक होना पड़ता है”

yun hi nahi aati khubasurati rangoli mein…
alag-alag rangon ko ek hona padata hai”


 

Best Praise poems

हुस्न वालों को संवरने की क्या जरूरत है,
वो तो सादगी में भी क़यामत की अदा रखते हैं।

Husn Walo Ko Sanwarne Ki Jarurat Kya Hai,
Woh Toh Saadgi Mein Bhi Qayamat Ki Adaa Rakhte Hain.


आप मन ही मन उन्हें चाहते रह गए
उन्हें पटाने के प्लान बनाते रह गए
पटाकर कोई और ले गया उन्हें और आप
उनकी शादी के टैंट से कुत्ते भगाते रह गए

aap man hi man unhen chaahate rah gae
unhen pataane ke plaan banaate rah gae
patakar koi aur le gaya unhen aur aap
unaki shadi ke taint se kutte bhagate rah gae


मिल जाएँगे हमारी भी तारीफ़” करने वाले.
कोई हमारी मौत की “अफ़वाह” तो फैलाओ यारों

mil jaenge hamari bhi tarif” karane vale.
koi hamari maut ki “afavah” to fhailao yaron


उस हसीन चेहरे की क्या बात है हर दिल अज़ीज़ ,
कुछ ऐसी उसमें बात है है
कुछ ऐसी कशिश उस चेहरे में
के एक झलक के लिए सारी दुनिया बर्बाद है |

us haseen chehare kee kya baat hai har dil azeez ,
kuch aisi usamen baat hai
kuch aisi kashish us chehare mein
ke ek jhalak ke lie saari duniya barbad hai..