INTEZAR SHAYARI IN HINDI AND ENGLISH

Intezar Shayari

INTEZAR SHAYARI IN HINDI AND ENGLISH

we are sharing this Intezar Shayari. Intezaar Shayari and Intezar Shayari quote in Hindi and Hinglish so that you all can enjoy them. we have the latest इंतज़ार शायरी 2019 collection. You can also read another Shayari from here. Visit our Facebook Page.

Intezar Shayari

Intezar Shayari

उनका भी कभी हम दीदार करते है
उनसे भी कभी हम प्यार करते है
क्या करे जो उनको हमारी जरुरत न थी पर
फिर भी हम उनका इंतज़ार करते है

unaka bhee kabhee ham deedaar karate hai
unase bhee kabhee ham pyaar karate hai
kya kare jo unako hamaaree jarurat na thee par
phir bhee ham unaka intazaar karate hai


इंतज़ार शायरी

ज़ख़्म इतने गहरे हैं इज़हार क्या करें,
हम खुद निशाना बन गए वार क्या करें,
मर गए हम मगर खुली रही ये आँखें,
इससे ज्यादा उनका इंतज़ार क्या करें।

Jakhm Itne Gahare Hain Izhaar Kya Karen,
Hum Khud Nishana Ban Gaye Baar Kya Karen,
Mar Gaye Hum Magar Khuli Rahi Ye Aankhein,
Isse Jyada Unka Intezaar Kya Karen.


Intezar ki Shayari

ऐ मौत उन्हें भुलाए ज़माने गुजर गए,
आ जा कि ज़हर खाए ज़माने गुजर गए,
ओ जाने वाले आ कि तेरे इंतजार में,
रास्ते को घर बनाए ज़माने गुजर गए।

Ai Maut Unhein Bhulaye Huye Zamane Gujar Gaye,
Aa Ja Ke Zeher Khaye Huye Zamane Gujar Gaye,
O Jaane Wale Aa Ke Tere Intezaar Mein,
Raste Ko Ghar Banaye Zamane Gujar Gaye.


Intezar Shayari in hindi

झुकी हुई पलकों से उनका दीदार किया,
सब कुछ भुला के उनका इंतजार किया
वो जान ही न पाए जज्बात मेरे,
मैंने सबसे ज्यादा जिन्हें प्यार किया।

Jhuki Hui Palkon Se Unka Deedaar Kiya,
Sab Kuchh Bhula Ke Unka Inezaar Kiya
Wo Jaan Hi Na Paye Jajbaat Mere,
Maine Sabse Jyada Jinhen Pyar Kiya.


Shayari hindi love Intezar

आदतन तुमने कर दिये वादे,
आदतन हमने भी ऐतबार किया,
तेरी राहों में हर बार रुककर,
हमने अपना ही इंतजार किया।

aadatan tumane kar diye vaade,
aadatan hamane bhee aitabaar kiya,
teree raahon mein har baar rukakar,
hamane apana hee intajaar kiya.


Shayari On Intezar

Shayari  On Intezar

उसके इंतजार के मारे है हम
बस उसकी यादों के सहारे है हम
दुनिया जीत कर क्या करना है अब
जिसे दुनिया से जीता था आज उसी से हारे है हम

usake intajaar ke maare hai ham
bas usakee yaadon ke sahaare hai ham
duniya jeet kar kya karana hai ab
jise duniya se jeeta tha aaj usee se haare hai ham


Intezar Shayari 2 line

कब ठहरेगा दर्द ऐ दिल कब रात बसर होगी
सुनते थे वो आएँगे सुनते थे सहर होगी

kab thaharega dard ai dil kab raat basar hogee
sunate the vo aaenge sunate the sahar hogee


Shayari Intezar

कभी दर तो कभी रस्ता देखते हैं
तेरे इंतिज़ार में हर दस्ता देखते हैं

Kabhi Dar To Kabhi Rasta Dekhte Hain
Tere Intezar Mein Har Dasta Dekhte Hain


Intezar wali Shayari

हर वक़्त तेरे आने की आस रहती है
हर पल तुमसे मिलने की प्यास रहती है
सब कुछ है यहाँ बस तू नही
इसलिए शायद ज़िन्दगी उदास रहती है

har vaqt tere aane kee aas rahatee hai
har pal tumase milane kee pyaas rahatee hai
sab kuchh hai yahaan bas too nahee
isalie shaayad zindagee udaas rahatee hai